ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा को एक लाख रुपये का इनाम देगा गोरखपुर नगर निगम

ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता नीरज चौपड़ा को नगर निगम गोरखपुर एक लाख रुपये का इनाम देगा। साथ ही गोरखपुर आगमन पर नगर निगम की ओर से भव्य स्वागत किया जाएगा। नगर निगम बोर्ड बैठक में ओलंपिक में भाला फेंक में स्वर्ण पदक जीतने पर बधाई देने के साथ इस प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। वहीं बोर्ड बैठक के दौरान हंगामे के बीच शहर के विकास एवं नगर निगम की आय के संसाधन विकसित करने के लिए कई प्रस्तावों को मंजूरी दी गई।

शनिवार को एनेक्सी भवन में नगर निगम बोर्ड बैठक आयोजित हुई। बैठक में क्रास नाली, स्ट्रीट लाइट, सड़क, नगर निगम में भ्रष्टाचार का मुद्दा छाया रहा। रुस्तमपुर वार्ड की पार्षद कंचनलता सिंह ने वार्ड में जलभराव की वजह सड़कों के टूटने, अधिकांश स्ट्रीट लाइट खराब रहने, गंदे पानी की सप्लाई होने आदि का मसला उठाया। अफरोज गब्बर ने सड़क के निर्माण में लेटलतीफी का मसला उठाया।

कहा कि एक सड़क को जांच के नाम पर पिछले डेढ़ साल से निर्माण कार्य बंद है। ऐसे में किसी भी जांच के पूरा होने की अंतिम समय सीमा तय होनी चाहिए। मनोनीत पार्षद रणंजय सिंह जुगनू ने मांग की कि जिस भी पार्षद के प्रस्ताव पर कोई भी निर्माण कार्य हो तो मुख्यमंत्री द्वारा शिलान्यास के समय उस पार्षद का नाम भी अंकित हो। पार्षद तिवारी राजेश तिवारी ने क्रास नाली बनाने की मांग की। पार्षद राधेश्याम रावत ने मांग की कि विलो टेंडर अधिकतम 10 प्रतिशत से ज्यादा न हो। इसकी वजह से कार्य की गुणवत्ता खराब हो जाती है। साथ ही छुट्टा पशुओं के लिए भी अंत्येष्टि स्थल बनाने की मांग की।

पार्षद मोहम्मद मतीन ने जन्म या मृत्यु प्रमाणपत्र बनाने में होने वाली देरी पर रोक लगाने की मांग की। पुराना गोरखपुर के पार्षद ने वार्ड में पानी की पाइपलाइन बिछाने में धांधली का आरोप लगाया और जांच की मांग की। संजीव सिंह सोनू ने पेयजल की समस्या के निस्तारण में जलकल विभाग की भूमिका पर सवाल उठाते हुए आरोप लगाया कि जानबूझकर वार्ड के लोगों को परेशान किया जा रहा है।

बृजेश सिंह छोटू, राजेंद्र तिवारी, आलोक सिंह विशेन, संजय यादव, शहाब अंसारी, इरशाद अहमद, मदन लाल अग्रहरि, अमरनाथ यादव ने भी विभिन्न मसलों को उठाया। नगर आयुक्त अविनाश सिंह ने एक सप्ताह के अंदर सभी कार्यों के प्रारंभ कराते हुए कार्यादेश में दी गई तिथि के अनुसार समय के अंदर कार्य पूरा कराने के लिए मुख्य अभियंता सुरेश चंद को निर्देश दिया। साथ ही कहा कि सभी ठेकेदारों को नोटिस देकर 15 अगस्त तक सारे कार्य पूरा करा लेने का निर्देश दिया।

साथ ही बताया कि स्ट्रीट लाइट के संबंध मं संबंधित कंपनी को 17 लाख रुपये का भुगतान किया गया और हरेक वार्ड में 10-10 फीटिंग लगाने का निर्देश दिया गया है। बैठक में उप नगर आयुक्त संजय शुक्ला, चीफ इंजीनियर सुरेश चंद, उप नगर स्वास्थ्य अधिकारी अखिलेश श्रीवास्तव, जलकल जीएम एसपी श्रीवास्तव समेत अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *